अलंकार : परिभाषा, प्रकार और उदाहरण – Alankar in Hindi

अलंकार – Alankar in Hindi Grammar   अलंकरोति इति अलंकार: – यह अलंकार की व्युत्पत्ति है। जैसे स्वर्णाभूषण नारी शरीर का सौंदर्य बढ़ाते हैं वैसे ही काव्य के शरीरभूत शब्द एवं अर्थ को उपमा आदि अलंकार सुशोभित करते हैं। संस्कृत के सभी आचार्यों ने शब्द और अर्थ को काव्य का शरीर माना है।   अलंकार रहित …

अलंकार : परिभाषा, प्रकार और उदाहरण – Alankar in Hindi Read More »

संयुक्त व्यंजन की परिभाषा, उदाहरण : Sanyukt Vyanjan in Hindi

संयुक्त व्यंजन (Sanyukt Vyanjan)   दो व्यंजनों के मेल से बना स्वतंत्र वर्ण (व्यंजन) संयुक्त व्यंजन कहलाता है।   जैसे –   1 . क् + ष् + अ  = क्ष > क्षत्रिय, क्षुधा 2 . त् + र् + अ = त्र > त्रुटि, चरित्र 3 . ज् + ञ् + अ = ज्ञ …

संयुक्त व्यंजन की परिभाषा, उदाहरण : Sanyukt Vyanjan in Hindi Read More »

व्यंजन किसे कहते हैं। व्यंजन के भेद और उदाहरण: Vyanjan in Hindi

व्यंजन (Vyanjan in Hindi)   परिभाषा :- जो वर्ण स्वर की सहायता से बोले जाते हैं, उन्हें व्यंजन कहा जाता है। किसी वर्ण का उच्चारण करते समय हवा फेफड़ो से बाहर निकलकर जब मुख में आती है और वह रुककर अथवा किसी अवरोध के साथ बाहर निकलती है तो उसे व्यंजन (Vyanjan) कहा जाता है। …

व्यंजन किसे कहते हैं। व्यंजन के भेद और उदाहरण: Vyanjan in Hindi Read More »

स्वर वर्ण किसे कहते हैं और स्वर वर्ण के कितने भेद होते हैं।

स्वर वर्ण   परिभाषा – जिन वर्णों का उच्चारण स्वतंत्र रूप से होता है और जिनके सहयोग से ही व्यंजनों का उच्चारण होता है, वे स्वर कहलाते हैं।   अथवा,   जब कोई वर्ण, किसी अन्य वर्ण की सहायता के बिना भी सरलता से बोला जा सकता है या किसी वर्ण का उच्चारण करने पर …

स्वर वर्ण किसे कहते हैं और स्वर वर्ण के कितने भेद होते हैं। Read More »

वर्ण किसे कहते हैं। वर्ण के भेद – Hindi Grammar

वर्ण (Varn) – वर्ण हिंदी व्याकरण का वह भाग है, जिसमें अक्षरों या वर्णों के उच्चारण, आकार, भेद तथा उनसे शब्द बनाने की जानकारी हो।   वर्णों की पहचान के लिए ‘चिन्ह’ बनाये गये हैं। जैसे – अ, आ, क, च, ट, त, प, य आदि।   अर्थात ‘वर्ण उस मूल ध्वनि को कहा जाता …

वर्ण किसे कहते हैं। वर्ण के भेद – Hindi Grammar Read More »