पद परिचय किसे कहते हैं : परिभाषा, प्रकार और उदाहरण

पद परिचय – Pad Parichay in Hindi Grammar   परिभाषा – वाक्य में प्रयुक्त प्रत्येक सार्थक शब्द पद कहलाता हैं तथा उन शब्दों के व्याकरणीय परिचय को पद परिचय कहते हैं।   पद परिचय में उस शब्द के उपभेद, भेद, वचन, लिंग, कारक आदि के परिचय के साथ, वाक्य में प्रयुक्त अन्य पदों के साथ …

पद परिचय किसे कहते हैं : परिभाषा, प्रकार और उदाहरण Read More »

वाक्य किसे कहते हैं। परिभाषा, भेद एवं उदाहरण

Vakya Kise Kahate Hain in Hindi Grammar परिभाषा – भावों और विचारों को व्यवस्थित रूप से अभिव्यक्त करने वाले शब्द-समूह को “वाक्य” कहते हैं। व्याकरण की दृष्टि से वाक्य सार्थक शब्दों का समूह होता है। वाक्य में इन शब्दों की क्रमबद्धता निश्चित होती है। इसके अभाव में वाक्य अपना अर्थ स्पष्ट रूप से प्रकट नहीं …

वाक्य किसे कहते हैं। परिभाषा, भेद एवं उदाहरण Read More »

अनेकार्थी शब्द – Anekarthi Shabd in Hindi Grammar

परिभाषा – ऐसे शब्द जिनके एक से अधिक अर्थ हों, अनेकार्थी शब्द कहलाते हैं। इनके भिन्न-भिन्न प्रयोगों से भिन्न-भिन्न अर्थ प्राप्त किए जा सकते हैं। प्रमुख अनेकार्थक शब्द निम्न प्रकार हैं – अनेकार्थी शब्द सूचि (Anekarthi Shabd List) : – अ से शुरू होने वाले अनेकार्थक शब्द अंक – निशान, पत्रिका का नम्बर, गिनती की …

अनेकार्थी शब्द – Anekarthi Shabd in Hindi Grammar Read More »

रस : परिभाषा, भेद और उदाहरण – Ras in Hindi

रस – Ras in Hindi Grammar   विभावानुभावव्यभिचारिसंयोगादृसनिष्पत्ति:।   भरतमुनि ने अपने नाट्यशास्त्र में उक्त सूत्र को उल्लेखित किया है। सूत्र से स्पस्ट है की विभाव, अनुभाव और व्यभिचारी भावों के संयोग से रस की निष्पत्ति होती है।   रस किसे कहते हैं। – Ras Kise Kahate Hain   रस काव्य की आत्मा है। रस …

रस : परिभाषा, भेद और उदाहरण – Ras in Hindi Read More »

छन्द : परिभाषा, भेद और उदाहरण – Chhand in Hindi

छन्द – Chhand Kise Kahate Hain   परिभाषा – जो पद रचना, वर्ण, वर्ण की गणना, क्रम, मात्रा, मात्राओं की गणना, गति आदि नियमों से निबद्ध हो, उसे छन्द कहा जाता है। अथवा, वर्णों या मात्राओं के नियमित संख्या के विन्यास से यदि आह्वाद उत्पन्न हो तो उसे छन्द कहते हैं। अथवा, हिंदी साहित्यकोशानुसार “अक्षरों …

छन्द : परिभाषा, भेद और उदाहरण – Chhand in Hindi Read More »